नवदुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान घर की पूजन सामग्री लेकर पहुंचे युवक शिप्रा नदी में डूबा।

देर शाम तक गोताखोरों को नहीं मिल पाया युवक अंधेरा होने से रेस्क्यू ऑपरेशन रोका



आलोट नगर के नया बाजार निवासी एक 38 वर्षीय युवक पप्पू सोनी घर की  पूजन सामग्री विसर्जन करने अपने बड़े भाई कोमल सोनी तथा अपने दो छोटे पुत्रों के साथ  दसवां घाटा शिप्रा नदी पर शाम को 5 बजे पहुंचा, जहां पर नगर परिषद कर्मचारियों द्वारा मूर्ति विसर्जन किया जा रहा था लेकिन युवक अपने भाई के साथ बड़ी पुल पर अलग रास्ते से दसवे घाट पर पहुंच गया , पूजन सामग्री विसर्जन के दौरान उक्त युवक का पैर फिसल गया उसके भाई ने हाथ  पकड़ने की कोशिश की लेकिन वह पकड़ नहीं पाया एवं पप्पू सोनी गहरे पानी में डूब गया जानकारी लगने पर नदी पर मौजूद रेस्क्यू टीम  नदी में डूबे युवक को बचाने के प्रयास में लग गई,

 वही काफी मशक्कत के बाद भी युवक नहीं मिला अंधेरा होने पर रेस्क्यू ऑपरेशन बंद कर दिया गया क्योंकि स्थानीय प्रशासन के पास ना तो पानी में जाने के लिए बोट उपलब्ध है और ना ही अन्य जरूरत के साधन मौके पर प्रशासनिक अधिकारी मौजूद ऑपरेशन रविवार को सुबह पुनः शुरू किया जाएगा, लेकिन पुलिस प्रशासन के मौजूद होने के बावजूद भी युवक ब्रिज के नीचे दसवा घाट पर पहुंचना पुलिस प्रशासन की व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह लगाता है क्योंकि जहां कुछ दिनों पूर्व गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान जो पुलिस व्यवस्था की गई थी वह इस बार औपचारिक रूप से दिखाई दी।


Post a Comment

ज्यादा जानकारी के लिये हमारी बेवसाईड https://www.zerobeat.in/ पर बने रहे! अपने विचार व्यक्त करने के लिए कमेंट करें

Previous Post Next Post