आईपीएल के सट्टे में हारे रुपए चुकाने युवक ने रची लूट की साजिश

 आईपीएल के सट्टे में हारे रुपए चुकाने युवक ने रची लूट की साजिश, भाई ने बैंक से पैसे निकालने दिया था चेक


 




 त्योंथर के जनेह थाना क्षेत्र अंतर्गत आज एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है जहां एक युवक ने खुद के साथ ठगी की वारदात किए जाने की साजिश रची और घटना की शिकायत थाने में दर्ज कराई जिसके बाद पुलिस की टीम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच की तो पता चला कि युवक खुद ठगी की वारदात की साजिश रचने वाला मास्टरमाइंड है जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया,... बताया रहा है कि युवक के द्वारा घर के पैसे का गलत इस्तेमाल कर लिया गया था जिसकी वजह से उसने इस तरह की घटना को अंजाम दिया,....

यह खबर भी पढ़िए !


  जिले की जनेह थाना पुलिस ने आज 2.23 लाख रुपए लूट की वारदात का पर्दाफाश, किया है जो रुपए ठगी की साजिश रचने वाले दोस्त के पास से बरामद हुए हैं,... बताया जा रहा है कि आईपीएल क्रिकेट में सट्टा खेलकर हारे युवक ने उधारी चुकाने के लिए लूट की फर्जी कहानी रची थी जिसमें उसने पुलिस को तीन बदमाशों के द्वारा रुपए छीनने की जानकारी दी लेकिन पुलिस की नजरों के सामने उसका झूठ अधिक समय तक नहीं टिक पाया और जनेह पुलिस ने आरोपी के दोस्त के पास छिपाकर रखे गए रुपए व मोबाइल बरामद कर लिया है,

पुलिस की माने तो भूपेन्द्र सिंह पिता कमलेश निवासी दमौती थाना जनेह को सोमवार की सुबह भाई पुष्पेन्द्र सिंह ने 2.23 लाख रुपए का चेक दिया था जिसे कैश करवाने के लिए वह शंकरगढ़ स्थित बैंक गया था। दोपहर  नकद रुपए लेकर लौट रहे युवक ने जनेह थाने के सूती रेस्ट हाऊस के समीप बाइक सवार तीन बदमाशों के द्वारा मारपीट कर रुपए छीनने की जानकारी परिजनों को दी जिस पर पुलिस को सूचना दी गई तब लूट की खबर ने पुलिस के भी होश उड़ा दिये

पुलिस जब मौके पर पहुंची तो पीडि़त युवक के लगातार विरोधाभासी बयानों से उनको संदेह हो गया उसने घटना के पूर्व दो-तीन घंटे अपने दोस्त अंकित पटेल के पास बैठने की जानकारी दी जिसके बाद थाना प्रभारी प्रदीप सिंह को उस पर संदेह हो गया और पुलिस उसके घर पहुंच गई,.... तब युवक के दोस्त ने बताया कि इसके द्वारा पैसों से भरा बैग व मोबाइल उसके पास छोड़ा गया था तथा दोस्त यह कह कर घर चला गया कि कल आएगा और वह अपने बाकी के बचे शेष पैसे वापस लेगा,. बैग में 1.93 लाख रुपए रखे हुए थे। 

पुलिस ने शेष रकम के संबंध में पूछताछ की तो उसने 32 हजार रुपए कियोस्क सेंटर के माध्यम से बजरंग ट्रेडर्स के खाते में डाल दिये। उसने आईपीएल में सट्टा लगाया था जिसमें वह 32 हजार रुपए हार गया था। इस रकम को चुकाने के लिए उसने लूट की कहानी रची लेकिन अधिक समय तक पुलिस को चकमा नहीं दे पाया,...

पुलिस का कहना है कि युवक ने तीन बदमाशों के द्वारा लूट करने की जानकारी दी थी। बदमाशों ने उसकी मोटर साइकिल पटक दी थी लेकिन जब पुलिस ने गाड़ी को चेक किया तो उसमें कोई खरोंच नहीं थी। इतना नहीं जिस समय वह घटना बता रहा था उस समय काफी भीड़भाड़ थी लेकिन किसी ने भी ऐसी घटना नहीं देखी। तभी पुलिस को संदेह हो गया और पुलिस उसके दोस्त के पास पहुंच गई जिससे पूरी कहानी सामने आ गई।

युवक ने लूट की सूचना पुलिस को दी थी जो फर्जी थी। वह आईपीएल में सट्टा खेलकर रुपए हार गया था जिसे चुकाने के लिए उसने 32 हजार रुपए एक व्यक्ति के खाते में डाले थे। शेष रकम उसके दोस्त के पास से बरामद हो गई। पूरे मामले की जांच की जा रही है,....

Post a Comment

ज्यादा जानकारी के लिये हमारी बेवसाईड https://www.zerobeat.in/ पर बने रहे! अपने विचार व्यक्त करने के लिए कमेंट करें

Previous Post Next Post